Get Indian Girls For Sex

big boobs4

स्तन कई आकार व माप के हो सकते हैं। निप्पल के आकार व रंग में भी काफ़ी अंतर हो सकता है

अक्सर स्तनों का आकार व माप असमान हो सकता हैं। करीब 20 वर्ष की आयु के आसपास यह अन्तर कम होने लग सकता है।

स्तन मुख्यतः दूध का उत्पादन करने वाली ग्रन्थियों से मिलकर बने होते हैं जो एक नली द्वारा निप्पल से जुड़े होते हैं। यह ग्रन्थियाँ चारों ओर से चर्बीदार ऊतकों से घिरी होती हैं।

हर महीने हार्मोन स्तनों को गर्भावस्था के लिए तैयार करते हैं। इस कारण स्तन थोड़े बड़े और अधिक संवेदनशील हो जाते हैं और मासिक धर्म खत्म होने पर अपने स्वाभाविक आकार व माप पर वापस आ जाते हैं।

स्तनों का माप

कुछ लड़कियाँ अपने स्तनों के माप से असंतुष्ट हो सकती हैं। कई बार वे चाहती हैं की उनके स्तनों का आकार बड़ा, छोटा या फि़र और कड़ा हो।

स्तनों के आकार व माप का उनकी संवेदनशीलता से कोई संबंध नहीं है - छोटे स्तन भी बड़े स्तनों जितने ही संवेदनशील हो सकते हैं। लड़कियों के स्तन - उनका आकार व माप - उनके गुणसूत्रों द्वारा निर्धारित होते हैं। आसपास की मांसपेशियों का भी स्तनों के आकार पर प्रभाव पड़ सकता है।

लड़कियाँ यह अनुभव कर सकती हैं की उनके स्तनों का आकार उनके वज़न के बढ़ने या घटने के अनुसार बढ़ या घट सकता है। स्तनों का माप महीने के अलग अलग समय पर अलग हो सकता है और यह हार्मोन युक्त गर्भनिरोधक (कॉन्ट्रासेप्टिव) से भी प्रभावित हो सकता है।

स्तनों के बारे में आम पूछे गये सवाल:

क्या स्तनों के माप को बढ़ाया जा सकता है?
इस बात का कोई प्रमाण नहीं है की व्यायाम से स्तनों के माप को बढ़ाया जा सकता है और इसका तो निश्चित ही कोई प्रमाण नहीं है की किसी भी स्प्रे या क्रीम से स्तनों का माप बढ़ाया जा सकता है। केवल प्लास्टिक सर्जरी या शल्य चिकित्सा द्वारा - कृत्रिम रुप से स्तनों का आकार बढ़ाने की संभावना हो सकती है।
क्या स्तनों पर बाल आना सामान्य है?
हाँ, लगभग सभी लड़कियों को स्तनों के आस पास या दोनों स्तनों के बीच या निप्पल पर, बहुत हल्के या हल्के घुँघराले या एक दो बाल हो सकते हैं।

यदि केवल एक दो बाल हों, तो इन्हें प्लकर या चिमटी से निकाल सकती हैं। चिमटी को संक्रमणहीन करने के लिए उसे स्पिरिट या किसी कीटाणुनाशक (डिसइंफेक्टेंट) से साफ़ कर के ही उसे इस्तेमाल करें। त्वचा को भी संक्रमण से बचाने के लिए स्पिरिट से पोंछ सकती हैं  और फिर त्वचा को नर्म या मुलायम रखने के लिए कोई लोशन लगा सकती हैं। शेव करने से त्वचा के नीचे बाल (इन ग्रोन बाल) बढ़ना शुरु हो सकते हैं।

यदि किसी को ज्यादा बाल हों तो वे वैक्सिंग भी कर सकती हैं या बाल साफ करने वाली क्रीम का उपयोग भी कर सकती हैं। वैक्स करने से त्वचा जल सकती और यदि आप त्वचा को अच्छी तरह रगड़ कर साफ़ न करें तो त्वचा के नीचे बाल (इन ग्रोन बाल) बढ़ना शुरु हो सकते हैं। ’वैसे तो बाल साफ़ करने की क्रीम से भी जलन हो सकती है, इसलिए स्तनों जैसी संवेदनशील जगह पर इसका इस्तेमाल करने से पहले, एक छोटे जगह पर इस क्रीम का असर जाँच (टेस्ट) कर लेना चाहिए।

मेरे स्तनों में दर्द सा महसूस होता है। क्यों?
किशोरावस्था में जब स्तनों का विकास शुरु होता है तब उनमें कभी कभी दर्द सा महसूस हो सकता है। मासिक धर्म के पहले भी स्तनों में दर्द या सूजन का अनुभव हो सकता है।

क्या निप्पल से स्राव होना सामान्य है?
जी हाँ, लड़कियों या महिलाओं में यह पूरे जीवन में, कभी न कभी, स्तनों में से अलग अलग मात्रा में विभिन्न द्रव्यों का उत्पादन हो सकता है।
यह तभी चिंता का विषय है यदि द्रव्य-
- लाल, गुलाबी या भूरे रंग का हो
- हर वक्त स्राव होता हो (गर्भावस्था के अलावा)
- सिर्फ़ एक ही स्तन से स्राव होता हो
यदि ऐसा हो तो अधिक जानकारी के लिए किसी चिकित्सक से संपर्क करें।

Click To Read :-

  1. स्तन(ब्रेस्ट) – महिला शरीर कि हर अंग के बारे में विस्तार से जानकारी
  2. योनि (वेजाइना) – महिला शरीर कि हर अंग के बारे में विस्तार से जानकारी
  3. महिला परिच्छेदन (महिला जननांगों का काटना) – महिला शरीर कि हर अंग के बारे में विस्तार से जानकारी
  4. महिला (फीमेल) ‘वेलवेट’ कंडोम कंडोम भारत में लॉन्च हुआ – female condom

Free Full HD Porn - Nude Images - Adult Sex Stories