Get Indian Girls For Sex

बुआ की चूत का भोसड़ा बनाया desi aunty sex stories

Indian couple recording their sexual adventure Indian Amateur Nude Images Huge natural tits babe Sensual anal sex session Full HD Porn 00007 1

desi aunty sex stories बुआ की चूत का भोसड़ा बनाया : हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम संजय है और में 21 साल का हूँ. मेरी एक सेक्सरंडी की जैसी बुआ है उसका नाम सुमन है उनकी उम्र 30 साल है और वो दिखने में एकदम सेक्स की देवी लगती है और. हमारा एक परिवार है जिसमें हम सभी एक साथ रहते है इसमे 8 अंकल 8 आंटी 15 भाई बहन है और इन लोगों के बीच में मेरा बचपन बहुत हंसी ख़ुशी बीता है.एक बार मैंने अपनी सुमन बुआ की जमकर चुदाई कि यह बात वो सच्ची घटना आज में आप सभी लोगों को बताने जा रहा हूँ, वैसे में पिछले कुछ सालों से सेक्सी कहानियाँ पढ़ता आ रहा हूँ और आज इसलिए मैंने बहुत हिम्मत करके अपनी कहानी भी आप तक पहुंचाई है और में उम्मीद करता हूँ कि यह आपको जरुर पसंद आएगी और अब ज्यादा समय खराब ना करते हुए में अपनी कहानी पर आता हूँ.दोस्तों यह बात उन दिनों की है जब मेरी सुमन बुआ की शादी हो चुकी थी desi aunty sex stories और में तब 20 साल का था और मेरी सुमन बुआ 29 साल की थी, वो उनकी शादी के बाद पहली बार उनके मायके आई हुई थी और वो हमारे साथ बहुत दिनों तक रहने वाली थी, लेकिन वो वहां से आने के बाद उनके चेहरे से ज्यादा खुश नहीं दिखाई दे रही थी और जब उनसे उनकी एक दोस्त मिलने के लिए आई तो वो उनको सेक्स के बारे में बातें बता रही थी.तभी में भी उधर से ही गुजर रहा था कि अचानक से मेरे कानों में उनकी चुदाई की वो बातें सुनकर में वहीं एक कोने में छुप गया और कुछ ही देर में मेरा लंड उनकी बातें सुनकर खड़ा हो गया इस दौरान मुझे पता चला कि फूफा जी ने अभी तक मेरी सुमन बुआ को चोदा ही नहीं था. desi aunty sex stories

सुमन बुआ कह रही थी कि उनकी चूत चुदाई के लिए बहुत तरस रही है वो अब इसका क्या करे? तो उनकी यह बात सुनकर में उस दिन से ही उन्हे चोदने की फिराक में रहने लगा था. में मन ही मन अब अपनी सुमन बुआ की चुदाई के सपने देखने लगा था.

दोस्तों मेरी अच्छी किस्मत से मेरी सुमन बुआ रात को मेरे ही कमरे में उनके एक अलग बेड पर सोती थी और में देर रात तक जागकर अपनी पढ़ाई किया करता था और उसके साथ अपनी सुमन बुआ को भी देखता था. एक दिन गरमी से बहुत ज्यादा बेचैन होकर उसने रात को अपनी साड़ी और ब्लाउज को खोलकर वो सो गई और में अपनी चकित नजरों से अपनी सुमन बुआ का गोरा बदन उनके बड़े आकार के बूब्स को देखकर अपनी आखें सेकने लगा. मुझे बड़ा मज़ा आता था और यह सिलसिला अब हर रोज़ ही होता था. एक दिन रात को सोते वक़्त अचानक मेरा ध्यान उनकी तरफ चला गया तो वो सब कुछ देखकर मेरी आँखे फटी की फटी रह गई क्योंकि आज उनका पेटीकोट भी ऊपर उठकर उनके पेट पर आ गया था, वो बहुत मस्त नजारा था और अब में उनके पास जाकर उनकी नंगी गोरी गांड को देखने लगा, वो सब देखते देखते मेरा लंड तनकर 6 का हो गया और अब मुझसे रहा नहीं जा रहा था. मैंने हिम्मत करके उनकी गांड को अपने हाथ से हल्के हल्के सहलाना शुरू किया, लेकिन उनकी तरफ से कोई भी हलचल ना देखकर मेरी हिम्मत अब ज्यादा बढ़ गई और में बिल्कुल पागल होकर उनकी गांड को सूंघने लगा. desi aunty sex stories

वो अब भी सोई ही रही और उसके बाद मैंने उनकी गांड को अपनी जीभ से चाटना शुरू कर दिया और एक हाथ से सहलाता भी रहा तभी अचानक से वो उठकर बैठ गई वो बहुत अजीब नजरों से मुझे देख रही थी, तो मैंने बहुत हिम्मत करके उनसे कहा कि सुमन बुआ आप मुझसे अपनी चुदाई करवा लो और यह बात हम दोनों के अलावा किसी को भी पता नहीं चलेगी और हम दोनों साथ में रहकर बहुत मस्ती करेंगे.

दोस्तों में पहले से ही बहुत अच्छी तरह से जानता था कि वो भी सेक्स की भूखी थी और उनको भी अपनी प्यासी चूत को चुदवाकर उसकी आग को शांत करना था. उनको इससे अच्छा मौका मिलना भी नहीं था इसलिए उन्होंने मेरी पूरी बात सुनकर भी मुझसे कुछ नहीं बोला और मुझे उनकी नजरों में वो सब दिखाई दे रहा था. desi aunty sex stories

तभी वो धीरे से मुस्कुराई और मेरा लंड अभी भी तनकर खड़ा था, तो सबसे पहले उन्होंने मेरे लंड को बहुत ध्यान से अपनी प्यार भरी नजर से देखा और उसके बाद तुरंत लंड को पकड़कर चूसने लगी और सक करते करते वो लंड को अपने मुहं में लेकर लोलीपोप समझकर चूसने लगी, वो मेरे लंड पर किसी भूखी बिल्ली की तरह टूट पड़ी और मुझे जन्नत का मज़ा मिलने लगा.

अब में उनको बोला उफ्फ्फफ्फ हाँ चाट जा मेरी चुदक्कड़ सुमन बुआ ओऊऊऊ आह्ह्हह्ह्ह्ह और ज़ोर से चूस वाह मज़ा आ गया और वो कुछ देर तक मेरे लंड का मज़ा लेती रही और मुझे भी अपना मज़ा देती रही. फिर कुछ देर चूसने के बाद मैंने उनके मुहं से अपने लंड को बाहर निकालकर उनके पेटीकोट के नाड़े को एक झटका देकर खोल दिया जिसकी वजह से वो पेटीकोट नीचे आ गया और मेरे सामने उनकी काले काले छोटे बालों से भरी बिना चुदी चूत और बड़ी सी गांड थी. में अब उन्हे घोड़ी बनाकर पीछे से उनकी गांड पर अपना लंड रगड़ने लगा और वो बिल्कुल बैचेन हो उठी उनकी चूत पानी छोड़ने लगी, तो में अपना लंड उनकी गांड में डालने लगा और वो दर्द से आहे भरने लगी, लेकिन फिर भी उसने मुझे मना नहीं किया और यह देखकर में अब धीरे धीरे अपने लंड को अंदर डालने लगा और उनके मुहं से उईईईई माँ मर गईईई निकल गया और वो ज़ोर ज़ोर से सिसकियाँ लेने लगी. desi aunty sex stories

फिर में अपने लंड को अंदर ही डालकर कुछ देर तक उनके मिल्की बहुत मुलायम बूब्स को मसलने लगा. में उनकी निप्पल को निचोड़ने लगा और उनकी दोनों निप्पल खड़ी हो गई जिसकी वजह से कुछ देर बाद वो जोश में आ गई और अब वो भी मेरा पूरा पूरा साथ दे रही थी. दोस्तों मैंने महसूस किया कि उनकी गांड क्या मस्त गद्दीदार और आकार में बड़ी थी जिसकी वजह से मेरा मन करता था कि में कभी भी उनकी गांड से अपना लंड बाहर नहीं निकालूं.

अब वो भी ज़ोर ज़ोर से कह रही है उफ्फ्फ्फ़ हाँ मेरे जिम्मी अह्ह्ह्हह तू मेरी गांड को और ज़ोर ज़ोर से मार और तेज ज़ोर से तेज ऊउईईईईईई आज तुम मेरी गांड को चोदकर मुझे जन्नत की सैर करवा दो, वाह मज़ा आ गया, तुम तो बहुत मज़े देते हो, तुमने यह काम बहुत अच्छा किया आह्ह्ह हाँ और अंदर तक जाने दो.

फिर इस तरह से में उनकी गांड को करीब बीस मिनट तक ज़ोर से तो कभी धीरे से, लेकिन लगातार धक्के मारता रहा और उसके बाद में उनके गांड में झड़ गया और उसके बाद में उनकी गांड में अपना लंड डालकर उन पर लेटा रहा उसके बाद मेरा लंड उनकी गांड से मुरझाकर बाहर आ गया और वो उठकर बाथरूम में चली गई. दोस्तों में क्या बताऊँ? में उस समय क्या महसूस कर रहा था, क्योंकि मैंने उस समय पहली बार किसी के साथ सेक्स किया था, जिसकी वजह से मुझे बड़ा मज़ा आया था और यह सब करना में सेक्सी फिल्में देखकर ही जान गया था. desi aunty sex stories

फिर कुछ देर के बाद सुमन बुआ बाथरूम से वापस आ गई और उन्होंने मुझे चूम लिया और उसके बाद उन्होंने मेरे लंड को एक चुम्मा दे दिया. फिर तब मैंने महसूस किया कि अब वो भी मेरे साथ पूरी तरह से खुल गई थी.

अब उन्होंने अपने बेड पर मुझे बुलाया और वो मुझसे बोली कि जिम्मी क्या तू मेरे बूब्स पियेगा और अब में भी तुरंत उनके पास में लेटकर उनके बूब्स को चूसने लगा वो अब अपने हाथ से अपने बूब्स को दबा दबाकर छोटे बच्चे की तरह मुझे अपनी निप्पल चुसवा रही थी और आहे भर रही थी. उनकी दोनों आखें बंद थी और वो आह्ह्हह्हहह् कर रही थी. इधर बूब्स को चूसते हुए मेरा लं