Get Indian Girls For Sex

कामवाली की चुदाई करने का मौका मिला - दीपा की चूत में अपना लंड डाला

Step Father Fucks His Daughter00007

Click Here >> School Girl Sex Scandal Schoolgirl Gets Fucked HD Images

नौकरानी को लंड दिया

Sirish Ahuza ⋅ नौकर/नौकरानी ⋅ चुंचे, चुदाई, बड़ा लंड, बड़ी गांड, भरी हुई, मांसल, मांसल स्तन ⋅

बालासौर का रहनेवाला हूँ मैं; मेरा नाम विक्रम हैं. मेरी उम्र अभी 36 साल हैऔर यह घटना मेरी और मेरी कामवाली दीपा की हैं. दीपा की उम्र कुछ 21 साल हैं. वो बड़ी ही सेक्सी हैं; बड़े बूब्स चौड़ी गांड और मस्त स्माइल. लेकिन मुझे सब से ज्यादा अगर कुछ पसंद हैं तो वो हैं उसके घने बाल. जी हाँ मुझे औरतों के बालों से सनक चढ़ती हैं और मैं उन्हें सूंघ के और भी उत्तेजित हो जाता हूँ. दीपा की चुदाई का ट्राय तो मैं कई अरसे से कर रहा था लेकिन वो हाथ में नहींरही थी. मैंने इस कामवाली की चूत में अपना लंड देने के लिए कब से बेताब था लेकिन बीवी की हाजरी में सेटिंग नहीं हो रही थी.

दीपा के बाल बड़े सेक्सी हैं Click Here >> School Girl Sex Scandal Schoolgirl Gets Fucked HD Images

इसीलिए मेरी बीवी ने जब बताया की वो 3 दिन के लिए मइके जा रही हैं तो मेरी ख़ुशी का ठिकाना ना रहा. मैं अपने ससुराल जाता हूँ लेकिन इसबार मैंने अपनी बीवी को काम का बहाना बता के अकेले ही भेज दिया. अब इसे मेरा मिशन समझे या महत्वकांक्षा मैंने दीपा की चुदाई पार करने के लिए ऑफिस से भी बीमारी के बहाने छुट्टी ले ली. पहले दिन मैंने दीपा को जस्ट ओब्सर्व किया. वो अपनी बड़ी गांड ले के आई. पहले झाड़ू लगाईं, फिर पोछा किया और अपनी ब्लाउज की गली से मुझे अपने चुंचो की झाँखी भी दी. उस शाम मुझे मुठ मारने में जो मजा आया वो मैं काश यहाँ लिख सकता. दीपा की याद में मैंने लंड को तेल लगा के हिलाया था. दुसरे दिन मैं सुबह ही मार्केट से कंडोम ले आया था. दीपा वैसे शादीसुदा हैं लेकिन उसका पति उसे छोड़ गया हैं इसलिए पेट फूला तो पंगे हो सकते थे. मैं अपनी तरफ से पूरा तैयार रहना चाहता था; चाहे चूत मिले या ना मिले. Click Here >> School Girl Sex Scandal Schoolgirl Gets Fucked HD Images

दीपा आई और उसने नित्यक्रम के मुताबिक़ झाड़ू लगाई. मैं उसके पास गया और इधर उधर की बाते करने लगा. मैं पहले भी उस से बात तो करता था लेकिन ज्यादातर बात काम के लिए होती थी. लेकिन आज मैं उस से फ़ालतू औत टाइमपास वाली बातें कर रहा था. वो भी हंस हंस के मेरी बातों का जवाब दे रही थी. वो कहते हैं ना की हंसी तो फंसी. मनोमन उसके मेरी जाल में फंसने के खयाल को सोच के ही मेरा लंड आग उबलने लगा था. मेरी नजर अभी भी उसकी गली से दिख रही काली ब्रा के ऊपर थे. वही ब्रा जिसके अंदर उसके भारीभर्खम चुंचे छिपे थे और जिन्हें चूस के मैं अपनेआप को तृप्त करना चाहता था. दीपा झाड़ू लगा चुकी थी और अब उसके हाथ में पानी की बालदी और पोछा था. मैं सोफे पे आके बैठा और एक इंग्लिश मैगज़ीन उठा के पढने का ढोंग करने लगा. वैसे तो मैगज़ीन में कुछ ऐसा था नहीं लेकिन उसके मुखपृष्ठ पे एक बेहद हसीन लड़की और पुरुष का आलिंगन दिखाया गया था. मुझे पता था की अगर दीपा की चूत में वीर्य का पानी नहीं छुट रहा हैं; तो उसे उत्तेजित करने के लिए वो पोज़ भी काफी था. मतलब की भूखे को सिर्फ आइसक्रीम या मिठाई से नहीं बल्कि रुखी सुखी रोटी से भी ललचाया जा सकता हैं.

मैंने बिच बिच में देखा की दीपा का ध्यान उस मुखपृष्ठ पे गया था; मैं समझ गया की लोहा गरम हो रहा हैं. जैसे ही दीपा सोफे के करीब पोछा लगाने के लिए आई मैंने जानबूझ के अपनी टांगो को निचे लटकाया. वो सोफे के करीब आई और अपनी बड़ी गांड हिला हिला के पोछे को घुमाने लगी. यही सही मौका था मेरे लिए. मैंने सोचा की जो होगा देखा जायेंगा और मैंने धीरे से अपनी टांग दीपा की बड़ी गांड पर घिस दी. मुझे लगा की दीपा इसका रेस्पोंस देंगी और भड़केगी. लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ और मुझे बहुत आश्चर्य हुआ. दीपा ने एक पलक भी नहीं हिलाई और मुझे पहली बार लगा की वो भी शायद मेरे जैसे किसी से चुदना ही चाहती होंगी. मैंने अपने पाँव को वही रहने दिया उसकी सेक्सी गांड के ऊपर. दीपा जैसे कुछ हुआ ही ना हो वैसे पोछा करने में ही व्यस्त रही. केवल एक चेंज हुआ था और वो यह था की वो पोछा एक ही जगह पर ज्यादा टाइम घुमा रही थी. मैंने अब अपने पाँव को उसकी गांड के ऊपर घिसना चालू किया; वो अब भी जैसे कुछ ना हुआ हो वैसे अपने काम में मग्न थी.

मैंने मनोमन अपने आप से कहा, विक्रम यह दीपा भी चुदासी हुई लगती हैं और वो चाहती ही हैं की तू उसका बूर भांज दे..!

गांड पे पाँव डाला

मेरे पाँव अब हिम्मत के साथ आगे बढ़ने लगे. मैंने धीरे से पाँव के अंगूठे को चूत के पास घिस दिया. मुझे उसकी चूत का अहसास अपने अंगूठे पर हुआ वैसे ही मैंने पाँव पीछे खिंच लिया. दीपा खी खी कर के निचे पोछे में अपना ध्यान रखे रही और मैं समझ गया की अब उसे पाँव नहीं बल्कि लंड देने का टाइम आया हैं. मैं सोफे से उठा और दीपा को कंधे से पकड के उठाया. पहली बार उसकी जबान खुली, “क्या कर रहे हो साहब जी कोई आ गया तो….?”

मैंने उसकी चुंचिया मसलते हुए कहा, “अरे कोई नहीं आएगा. तुम चिंता मत करो.”

मेरे हाथ उसकी बड़ी बड़ी चुंचिया मसल रहे थे और दीपा ने पोछे को जमीन पर फेंका. वो भी कब से चुदासी हुई थी इसलिए उसके स्तन मसलते ही वो भी आँखे बंध कर के मजा लेने लगी. मैंने उसके ब्लाउज को साइड में किया और उसके बटन खोलने लगा. जैसे जैसे बटन खुलते गए उसकी काली ब्रा और उसमे छिपे हुए चुंचे बहार दिखने लगे. Click Here >> School Girl Sex Scandal Schoolgirl Gets Fucked HD Images  दीपा ने बाकी के बटन अपने हाथो से खोल दिए और मैंने अपना हाथ उसके घने बालों में रख दिया. दीपा ने अपने हाथो से ही अपनी ब्रा खोली और उसकी चुंची को देख के मेरा लंड और भी उत्तेजित हो गया. लेकिन मेरा मन अभी मेरी बालों वाली फेंटसी में था. मेरी बीवी ने तो कभी इसके लिए मुझे इजाजत नहीं दी लेकिन मैं दीपा के साथ ये जरुर करना चाहता था. मैंने उसके पीछे जा खड़ा हुआ और अपने लंड को बहार निकाला. दीपा अभी कुछ समझ पाती उसके पहले मैंने उसके बालो में अपना लंड रख के घिसना चालू कर दिया.

दीपा ने पलट के मेरी तरफ देखा और वो हंस पड़ी. उस बेचारी को क्या मालुम की मुझे ऐसा करने में कितना मजा आ रहा था. मुझे पहले से ही बड़े बालो के ऊपर अपने लौड़े को घिसने में बड़ा मजा आता था. दीपा के बालो मैंने हाथों में लिया और उनके बिच अपने लंड को जैसे की घुसाने लगा. दीपा के बालो पे 1 मिनिट लौड़ा घिसने से ही मुझे जैसे चुदाई का एक अजीब नशा चढ़ने लगा. मेरे लंड में कंपन आ रहे थे जिसे अब चूत की गर्मी ही शांत कर सकती थी. मैंने दीपा को कंधे से पकड़ा और उसे उठा के सोफे में बिठा दिया. वो बखूबी जानती थी की उसे क्या करना हैं. उसने फट से अपने कपडे उतारे और वो एक मिनिट में ही पूरी नंगी बैठी थी सोफे के ऊपर.

दीपा ने लंड मुहं में लिया

मैंने अपना लौड़ा उसके मुहं के सामने रख दिया और दीपा ने उसे मुहं में लेने के लिए मुहं खोल दिया. मैंने दीपा के मुहं को दोनों साइड से पकड़ा और अपना लंड उसके मुहं में रख दिया. दीपा ने अपने चिपचिपे होंठ मेरे लंड के ऊपर लगाये और वो बड़ा ही रोमांचित कर देने वाला अनुभव था. उसके गरम गरम होंठ और मेरे लौड़े की गरमी जैसे की आमने सामने टकरा रही थी. तभी दीपा ने लौड़े के खंभे को अपने हाथ में पकड़ा और और वो उसे चूसते चूसते हिलाने लगी. मैं उस वक्त जैसे सातवें आसमान पे था और मेरी उत्तेजना का कोई ठिकाना ही नहीं था. दीपा मेरे लंड को अपने मुहं में बिलकुल सही तरह से चला रही थी और उसका एक एक चूस्सा मु