Get Indian Girls For Sex

हेल्लो दोस्तों में हु मुकेश मेरी उम्र 2 साल हे मेरे लौड़ा का साइज 9 इंच हे मेरी मम्मी का नाम साधवी हे वो 40 साल की हे उनका फिगर 36,22,35 का हे, मेरे घर में बहिन पापा में और मम्मी रहते है, ये बात 3 साल पहले की हे।।

मेरे मन में मेरी मम्मी के लिए कोई हवस नही थी, मम्मी हे तो मस्त फाड़ू माल गोरी चित्ती, मेरा एक दोस्त नमन हे हम दोनों क्लास मेट हे एक दिन नमन बिना मुझे बताये स्कूल नही आया उसने मुझे इन्फॉर्म भी नही किया की वो कल स्कूल नही आने वाला, मुझे लगा शायद नमन बीमार हो गया होगा, मेने सोचा स्कॉल की छुट्टी होगी तो उसके घर जाऊंगा में, स्कूल की छुट्टी हुई में नमन की घर उससे मिलने जा रहा था.

नमन के घर में अमरुद का पेड़ पर बहुत सारे फल लगे हुए थे, और उदार नमन के कमरे की विंडो भी , मेने जब विंडो से अंदर देखा तो मेरी आँख फटी की फटी रह गयी नमन अपनी मम्मी की चुदाई कर रहा है मुझे तो यकीन नहीं हो रहा था जो आज मैं उस समय देख रहा हूँ, मेने जल्दी से मोबाइल से उनकी चुदाई रेकॉर्ड करने लग गया 6 मिनेट बाद में अपने घर के लिए निकल गया, मेरी भी मेरी मम्मी की चुदाई करने की इच्छा होने लगी , में उस दिन से रोज मेरी मम्मी की कमर देख देख के हिलाता था , कभी उनके पेंटी में मूठ मरता लग गया ।।

में प्लान बनने लगा की कैसे में अपनी मम्मी को पटाओ कैसे उनको चोदू, बहुत सोचने के बाद एक आईडिया आया। मेने पक्का सोच लिया मुझे मेरी मम्मी को चोदना हे,  में सुबह जल्दी उठ गया क्योंकि मेरी मम्मी सुबह मेरी कमरे की सफाई करने के लिए आती है। में सोने का नाटक करने लगा मेने जान बुझ कर नीचे सो रहा था, मम्मी रूम में आई बोली मुझे सफाई करनी है, तू ऊपर सो जा, मां सफाई कारने लगी मेने अपना 9 इंची लौड़े को बहार निकल कर मम्मी को कहा मम्मी मेरी नुनु को क्या हो गया देखो ना ये अचानक से बड़ी हो गयी ,मम्मी मेरे लौड़े की देख कर अबाक रह गयी।

मेने कहा मम्मी ये क्या हो रहा है मेरी नुनु के साथ, मेने मम्मी से पूछा , माँ बोली तू इसको हिला मेने कहा मुझे नही हिलाना, में डाक्टर के पास जा रहा हु, मम्मी बोली कुछ नही हुआ है इसे कही जाने की जरूर नही है, तूने कभी मुठ नही मारी क्या, में ने कहा वो क्या होता है , मुझे डॉक्टर के पास जाना है, मम्मी बोली ओफो चुप हो जा में तुझे बताती हु कैसे हिलते हे।।

मम्मी ने मेरे लण्ड पे थूक से गिला करके, अपने कोमक हाथों में पकड़ कर हिलाने लगी देख बेटा तू अब जावन हो गया हूं, अब तू इसको नुनु नही बोल सकता , ये लण्ड बन गया है, जब भी तेरा नुनु बड़ा होगा तू में जैसे कर रही हु वैसे करना अपने लण्ड को हिलाना मेने कहा मम्मी मुझे बहुत मज़ा आ रहा है, eight से 10 मिनेट हिलते हिलते मेरा वीर्य नही निकला तो मम्मी बोली तू किसी की इस बारे में कुछ बताना नही है।

मम्मी में मेरे लण्ड में अपने मुह में ले लिया और आइस क्रीम समझ के चूसने लग गए, मम्मी में मेरा लौड़ा चूसने में मज़ा आने लगा, मम्मी मेरे लौड़ा को अपने पूरे गले के अंदर तक चूसने लग गयी, मेरे लैंड को पूरा उन्होंने अपनी मुह के लार से गिला कर दिया, और ओक्कक ऑक्क्क्क्क्क अऊकककक ऊक्क्क्क्क्क्क्क्क  की आवज आ रही थी उनके मुह से 10 मिनेट के बाद में जड़ने वाला ही था मेने मम्मी को नही बताया कि में झड़ने वाला हु मेने उनके सर को जोर से अपने लौड़े पर दबा दिया और पूरा का पूरा वीर्य की आख़री बून्द उनके मुह के ऊपर में ही झोड़ दी।

फिर मेने अपना हाथ उनके सर से हटा लिया उनकी , मम्मी का पूरा का पूरा फेस मेरा सफ़ेद और गाड़े रस गन्दा कर दिया ,उन्होंने पूरा अपनी ऊँगली से चाट चाट के खा लिए। मेने कहा मम्मी जब ना आप मेरे लण्ड को चूस रही थी ना तो  मुझे बहुत मज़ा आ रहा था, मम्मी लण्ड तो पहले जैसा छोटा हो गया , मम्मी ये कैसे हुआ , मम्मी बोली अभी में नही बता सकती , मुझे बहुत कम है, बाद में सब बता दूँगी।।

loading...

में नाहा के फ्रेस हो गया,  मम्मी के पापा का लंच तैयार किया , में उस दिन स्कूल नही गया, पापा के ऑफिस जाने के बाद , अब घर में मम्मी और में ही थे। दोपहर के टाइम मम्मी अपने रूम में सो रही थी, मम्मी ने साडी पहनी हुई थी, उनके सेक्सी और सुडोल थन  ब्लोउस में बहुत ही टाइट थे, मेने मम्मी की साड़ी का पल्लू को नीचे उनके पैरों की तरफ सरका दिया, उनकी पतली कमर पर उनकी नाभि का सेक्सी गड्डा देख कर मेरा लण्ड तो पूरा लोहे की रॉड जैसा टाइट हो गया, मेरे से रहा नही गया मेने मम्मी को जगाया बोला मम्मी मेरा लण्ड फिर से बड़ा हो गया मेने कहा क्यों ये बार बार बड़ा हो जाता है…

मम्मी बोली जब तो किसी लड़की के बूब्स को देखता , ये तुझे सेक्स करने का मन करता है तब इस होता है, तेरा पापा का भी लण्ड बड़ा होता है, मेने पूछा – मम्मी पापा का मेरे से भी बड़ा होता है क्या ? तब मम्मी बोली – नही उनका साइज छोटा और पतला भी , मेने कहा मम्मी अब मेरे लंड को पहले जैसे चूस के छोटा कर दी, वो बोली आखरी बार फिर तू ही मुठ हिला हिला के काम चलाना , फिर मम्मी लण्ड को मुह में लेकर चूसने लई उनके मोती के जैसे दाँत मेरे लौड़े पर गुदगुदी कर रहे थे, में हूऊ मम्मी बहुत मज़ा आ रहा हे लण्ड को पूरा अच्छी से चुसो,, मम्मी मेरी बॉल्स को भी चूस ने लग गयी।

मेने मम्मी से पूछ क्या आपका भी लण्ड  बड़ा होता है,मम्मी बोली नही मेरी चुत हे, औरतो के पास चुत होती जिसमे लड़का लण्ड डालता है,, औरतो की चुत, गहरी होती है ।।

मेने मां से  कहा-  मम्मी में भी आपकी चुत चूसने हे, वो बोली-  नही, कोई जरूरत नही है,    मेने कहा मां ये गलत है जब आप मेरा लण्ड को चूस सकती हो, में भी आपकी चुत चूसना चाहता हु, मेने बहुत जीद और रिक्वेस्ट करने के बाद वो मान  गयी ,मम्मी अपनी बच्चो को कभी माना नही करती , मम्मी बोली – कसम खा इस बारे में किसि को कुछ भी मत बताना, मेने कहा ठीक है मम्मी नही बताउगा किसी को भी।।

मम्मी ने धीरे से अपनी कमर से साड़ी खोली, अपना पेरिकॉट निकाला , मम्मी की चिकनी जांघ ,में मम्मी के फिगर को देख के मन में ये सोच रहा था, पापा ने जरुर sixteen सोमवार का उपवास किये होने जभी ये सेक्सी औरत उन्हें मिली, माँ ने लाल रंग की पेंटी भी उतार दी, मम्मी की चुत किसी पारी की चुत से कम नही लग रही थी, बिल्कुम क्लीन सेव , गहरी गुलाबी चुत, मेने मम्मी को बेड पर लेटने को कहा ,मम्मी की पैरो को फैलाया, अपने जीभ को चुत के अंदर डाल के टेस्ट किया, मम्मी की मुह से सिसकी निकली ह्ह्ह्ह्ह्यः!

मम्मी की चुत में जूस के आगे सब जूस फेल हे, में मम्मी की चुत को चटाते जा रहा था , मम्मी सेक्सी आवाज में सिसकिया निकल रही है ह्ह्ह्ह्ह्यः हहहह ह्ह्ह्ह्ह्यः ऊऊऊऊ ईऊऊ मेरे सर को  आने हाथो से आने चुत पर द