Get Indian Girls For Sex

मेरी वर्जिन कामवाली की चूत में अपना लंड डाला - मेरे लंड से वीर्य निकल के उसकी चूत पर गिरने लगा

12002976_822977254487417_875652094222537627_n

Click Here To Watch >> Dever Fucking bhabhi because bhabhi need a child – nude images

हेल्लो दोस्तों, मेरा नाम अशोक हैं नई दील्ली का रहनेवाला हूँ और इस साईट का बड़ा फेन हूँ. कम समय में यहाँ पर मेरी पसंद की कहानियां पढ़ के अब मैं यहाँ रोज आता हूँ. एक दिन मैं सोचा की क्यूँ ना अपनी कहानी भी आप लोगों को बताऊँ. मैं 23 साल का हूँ और यह कहानी मेरी और मेरी कामवाली की हैं. उसका नाम दीपा हैं, उसकी उम्र 20 के करीब थी और वो तब वर्जिन थी. दोस्तों दीपा का फिगर बड़ा ही सेक्सी था और उसकी पतली कमर और थोड़ी बड़ी गांड देख के मेरा मन डोलने लगता था.

मेरा मन तो करता था की साली को पकड के पेल दूँ जब वो झाड़ू लगाने के लिए झुकती थी और उसकी गांड पीछे बहार निकलती थी.

एक दिन की बात हैं जब मेरे घर पर मेरे अलावा कोई नहीं था और मैं लेपटोप के ऊपर बैठ के काम कर रहा था. तभी दीपा आई कमरे में झाड़ू लगाने के लिए. आज उसने स्कर्ट और टॉप पहना हुआ था (फेशन वाला नहीं लेकिन जो गरीब घर की लड़कियां पहनती हैं सस्ते वाला). उसने रूम में झाड़ू लगाना चालू किया और मेरे हाथ लंड सहलाने लगे. उसके टॉप के पीछे उसकी काली ब्रा दिख रही थी जिसे देख के मैं लंड को और भी सहलाने लगा. मन तो किया की उसे जकड़ लूँ अपनी बाँहों के अंदर लेकिन ऐसा नहीं किया मैंने. और फिर वो कमरे से चली गई.

मैंने कुछ सोचा और दीपा को आवाज दी. वो रूम में आये उसके पहले मैं छिप गया. वो रूम में मुझे देखने लगी. वो आगे बढ़ी और मैंने पीछे से आके अपने हाथ उसकी आँखों पर रख दिए. मैं उसके कान के पास गया और उसे हलके से कहा, दीपा आई लव यु. उसने गुस्से से मेरे हाथो को हटा दिया और चली गई रूम से. मैं उसके पीछे गया और उसके पास माफ़ी मांगने लगा.

दीपा ने कहा की आप माफ़ी क्यूँ मांग रहे हो.

मैंने कहा की तुम नाराज हो इसलिए.

loading...

मैं नाराज नहीं हूँ, बस सोच रही हु जवाब देने का.

मैंने कहा, हां कह दो ना डार्लिंग.

उसने थोडा आगे जाके पीछे मूड के देखा और फिर नजाकत से मुंडी हिला के हाँ कह दिया. मैंने उसे फट से हग कर लिया और उसकी चूत के ऊपर मेरे गरम लंड का अहसास देने लगा. वो निचे भाग गई और मैंने अपने आप से कहा, की कहाँ तक भागोंगी मेरे लंड से पेलूँगा मैं जरुर तुम्हें. Click Here To Watch >> Dever Fucking bhabhi because bhabhi need a child – nude images

बस उस दिन से हमारा प्यार स्टार्ट हो गया. हम अक्सर मेरे रूम में हग करते और मैं उसे सस्ते से गिफ्ट देने लगा. फिर मैंने उसे एक नोकिया का फोन भी पर्चेस कर के दे दिया और मैं उसे फोन करने लगा. वो फोन को अपने बूब्स कके ऊपर ब्लाउज के अंदर छिपा के घर ले जाती थी. उसने कहा की अगर किसी ने फोन देखा तो पंगे हो सकते थे. मैंने उसे कहा की हमेंशा फोन को साइलेंट ही रखे. हम रोज 10-15 मिनिट बात करते थे और मैं उसके बदन की खासकर उसकी गांड और बूब्स की तारीफ़ करता था. पहले तो वो शर्माती थी लेकिन अब वो भी थोड़ी गंदी बातें करने लगी थी मुझ से.

और मौके वाला दिन आ ही गया. एक दिन मेरे घर में कोई नहीं था और मैं ऊपर अपने कमरे में बेड में सोया था. तभी दीपा आई और उसने मुझे कन्धा पकड के हिलाया. मैंने उसका हाथ पकड़ के उसे अपने बेड में खिंच लिया. उसके बूब्स मेरे मुहं के सामने थे और उसके ब्लाउज के ऊपर से आधे बूब्स बहार लटक गए थे जैसे.

उसने कहा, क्या कर रहे हो अशोक?

मैं हंस के कहा, अपना हक ले रहा हूँ मेरी जान.

अरे इसकी क्या जरुरत हैं, कोई देख लेगा तो गजब हो जायेंगा.

ऐ घर में कोई होगा तब देखेंगा ना, और मैंने अपने होंठ उसके होंठो पर रख दिए. दीपा भी रिस्पोंस देने लगी और मुझे चूसने लगी. मैंने पहले उसके ऊपर के होंठ को चखा और फिर निचे के होंठ के ऊपर कस के किस दे दी. दीपा की साँसे मेरी साँसों से टकराने लगी थी. मेरे हाथ उसकी गर्दन के पीछे और दूसरा हाथ कमर के ऊपर था. अब मैंने एक हाथ से उसको कमर से पकड़ा और दुसरे हाथ को धीरे से उसके बूब्स पर ले गया. ब्लाउज में बूब्स ऐसे भरे थे जैसे उन्हें ठूंस ठूंस के भरा गया था. दीपा आह आह करने लगी और मैं उसके बूब्स को मसलने लगा. दीपा के मुहं से सिसकियाँ निकलने लगी और मैंने उसे और भी जोर से बाहों में दबोच लिया ताकि वो अपनेआप को छुड़ा ना सकें. वो भी मुझे जोर जोर से चूम रही थी होंठो पर और उसके हाथ मेरे गले में थे. मैंने अब हाथ को ब्लाउज के ऊपर से ही अंदर किया और अंदर रखे मोबाइल को निकाल के निचे बेड पर फेंका. अब मैं हाथ से उसकी बूब्स की त्वचा को मसलने लगा. दीपा की सिसकियाँ बढ़ने लगी थी अब…!

मैंने उसके ब्लाउज के बटन खोल दिए और उसकी लाल ब्रा में उसके बूब्स दिखने लगे. मैं बूब्स देख के और भी गरम हो गया और ब्रा को मैं पीछे से खोल दिया. दीपा ने अपने हाथ से बूब्स को ढंकने का प्रयास किया लेकिन वो मेरे हाथ को रोक नहीं पाई बूब्स का पर्दा हटाने से. मैंने उसके हाथ पकड लिए औ उसके जवान चुन्चो को मैं अपने अपनी जबान से जोर जोर से चाटने लगा. दीपा की सिसकियाँ और भी बढ़ गई. अब मैंने उसके बाकी के कपडे भी उतार दिए और उसे बेड में फेंक दिया. दीपा अपनी चूत को हाथ से छिपा रही थी. मैंने जैसे ही अपने कपडे खोले वो मेरे लंड की और देखने लगी.

अब मैं भी नंगा हो के बेड में आ गया. मैंने अपना लंड उसके मुहं के पास रखा और 69 पोजीशन बना ली. मैं उसकी चूत में अपना मुहं डाल के चूसने लगा और दीपा मेरे सुपाड़ें को चूसने लगी. बहुत मजा आ रहा था उसके लंड को चूसने से. और फिर उसने हिम्मत कर के अपने मुहं में लंड को पूरा ले लिया. मेरे बदन में जैसे की करंट का झटका दौड़ गया. दीपा अब मेरे लंड को चूसने लगी और मैं उसकी चूत की को चटवाने लगी. मैंने अब अपनी एक ऊँगली चूत के छेद पार रख दी और उसे सहलाते हुए अपनी जबान से चाटने लगा. दीपा सिसकियाँ उठी और लंड को गले तक लेके चूसने लगी. मैंने ऊँगली उसकी चूत में डाली और उसकी चूत के रस को बहार निकाल कर चखने लगा. उसकी चूतबहुत ही खारी थी औ